बैंगन की किस्में एवं विशेषताएं

पूसा परपल क्लस्टर

यह बैंगन की किस्म उत्तरी भारत के मैदानी इलाकों और पहाड़ी क्षेत्रों के लिए उपयुक्त है इसका फल 10 से 12 सेंटीमीटर लंबे एवं गुच्छे मे लगते है और प्रत्येक गुच्छे मे करीब 4 से 9 फल लगते है इसकी औसत उपज 20 टन/हेक्टेयर है बैंगन के इस प्रजाति को आईएआरआई, नई दिल्ली द्वारा विकसित किया गया है।

पूसा श्यामला

इस बैंगन की किस्म का फल लंबा, चमकदार एवं आकर्षक गहरे बैंगनी रंग के होते है. प्रत्येक फल का वजन 80-90 ग्राम होता है। रोपाई के 50-55 दिन बाद इसकी पहली तुड़ाई होती है। इसकी औसत उपज 39 टन/हेक्टेयर है बैंगन के इस प्रजाति को आईएआरआई, नई दिल्ली द्वारा विकसित किया गया है।

पूसा हाईब्रिड- 9

यह बैंगन के संकर नस्ल का किस्म है इसका फल अण्डाकार गोल, चमकदार गहरे बैंगनी रंग के होते हैं. इसकी प्रत्येक फल की वजन 200 से 250 ग्राम तक की होती है रोपाई के बाद पहली तुड़ाई 55 से 60 दिन के बाद होती है यह किस्म गुजरात तथा महाराष्ट्र क्षेत्र के लिए उपयुक्त है इसकी औसत पैदावार 50 टन प्रति हेक्टेयर है।

पूसा अंकुर

यह बैंगन की अगेती क़िस्म है. जिसके रोपाई के दिन से 40 से 45 दिनों में फल तोडने के लायक हो जाते हैं. इसके फल छोटे, गहरे बैंगनी, अण्डाकार गोल एवं चमकीले होते हैं, इसकी औसत पैदावार 35 टन प्रति हेक्टेयर है।

Yellow Browser

पूसा हाईब्रिड -5

यह बैंगन के संकर नस्ल का किस्म है इसका फल लंबे, मध्यम आकार के एवं गहरे बैंगनी रंग के होते है यह किस्म रोपाई के दिन से 50 से 55 दिनों में फल तोडने के लायक हो जाते हैं यह प्रति हेक्टेयर 50 से 52 टन तक पैदावार की देती है।

पूसा हाईब्रिड-6

यह बैंगन के संकर नस्ल का किस्म है इसका फल गोल, बैंगनी, चमकदार एवं मध्यम आकार के होते है. इसके प्रत्येक फल का वजन लगभग 200 ग्राम होता है यह किस्म शरद ऋतु या सर्दियों के मौसम लिए उपयुक्त है रोपाई के 55-60 दिनों के बाद इसकी पहली तुड़ाई की जा सकती है. यह प्रति हेक्टेयर 40 से 45 टन तक की पैदावार देती है।

अर्का नवनीत

यह बैंगन के संकर नस्ल का किस्म है इसका फल बड़े एवं अंडाकार होते हैं इसका बाह्य पुंजदल हरे रंग का होता है। इसका छिलका गहरा जामुनी चमकीला होता है एवं इसके फल का औसत वजन 450 ग्राम तक होता है इसमें कड़वापन नहीं होता है और इसकी सब्जी अत्यंत स्वादिष्ट बनती है।

बैंगन की खेती एवं बैगन के किस्मों के बारे मे और विस्तार से जानने के लिए नीचे क्लिक करें।

Medium Brush Stroke