Medium Brush Stroke

जनियें, जैविक खेती से जुङी कुछ महत्त्वपूर्ण बातें!

Organic Farming

जैविक  खेती  पूरी तरह से पर्यावरण के अनुकूल है। इसमें रासायनिक उर्वरकों और रासायनिक कीटनाशकों का प्रयोग नहीं किया जाता है।

Off-white Banner

जैविक खेती मे जैव पदार्थों को सङा-गलाकर के तैयार की गई ऐसी खाद जिसमे की सूक्ष्म जीवों की संख्या एवं पौधों के लिए आवश्यक पोषक तत्व प्रर्याप्त मात्रा मे होती है ऐसे खादों को प्रयोग करके जैविक खेती करते हैं।

सरकार ने जैविक खेती को बढ़ावा देने के लिए परंपरागत कृषि विकास योजना को वर्ष 2015 में प्रारंभ किया। जिसका मुख्य उदेश्य जैविक खेती (ऑर्गेनिक खेती) को बढ़ावा देना हैं. तथा इसके साथ ही इस योजना के माध्यम से सरकार जैविक उत्पादों के सर्टिफिकेशन (प्रमाणीकरण) और मार्केटिंग को प्रोत्साहित करने की कार्य करती है।

जैविक खेती कृषि की वह पद्धति है जिसमे रासायनिक उर्वरकों, खरपतवारनाशीयों, कीटनाशकों आदि का प्रयोग नहीं करते है बल्कि उसके स्थान पर जीवांश खाद जैसे कि गोबर की खाद, हरी खाद, जैव उर्वरक और वर्मी कम्पोस्ट आदि का प्रयोग करते हैं।

Thick Brush Stroke

वर्तमान समय मे जैविक खेती से प्राप्त उपज की मांग बहुत अच्छी है बाजार मे इसकी मांग अच्छी खासी देखने को मिलती है। इसकी कीमत भी रासायनिक उपज की तुलना मे ज्यादा होती हैं।

जैविक खेती से लाभ – महंगे रासायनिक उर्वरकों, खरपतवारनाशी और कीटनाशकों से छुटकारा दिलाता हैं जिससे खेती की लागत मे कमी आती हैं। – भूमि की उपजाऊ क्षमता मे वृद्धि के साथ ही फसलों के उत्पादकता मे वृद्धि।  – जैविक खाद के उपयोग से भूमि की गुणवत्ता मे सुधार होती हैं।

जैविक खेती से लाभ

– भूमि की जल धारण क्षमता मे बढ़ोतरी एवं जल का वाष्पीकरण कम होता हैं। – इसे सभी वर्ग के किसान आसानी से अपनाकर जैविक तरीके से खेती कर सकते हैं साथ ही किसान जैविक खाद तथा जैविक कीटनाशकों को किसान स्वयं आसानी से तैयार कर सकते हैं।  – जैविक खेती से मानव एवं पशुओ को विषमुक्त स्वस्थ्य भोजन एवं चारा उपलब्ध होता हैं। – किसानों को लागत मे कमी और उत्पादों के भाव अधिक मिलने से अच्छा मुनाफा होता हैं।

जैविक खेती  के बारें मे और अधिक जानने के लिए नीचे क्लिक करें।

Medium Brush Stroke