Tuesday, October 4, 2022

Soil Health Card Scheme क्या है तथा इससे किसानों को क्या लाभ है !

spot_imgspot_imgspot_imgspot_img

मृदा स्वास्थ्य कार्ड योजना (Soil Health Card Scheme) कि शुरुआत 19 फरवरी 2015 मे की गई इस योजना की शुरुआत किसानों की मिट्टी की जाँच करके मिट्टी की गुणवत्ता का अध्ययन करके एक मृदा स्वास्थ्य कार्ड जारी की जाती है जिसमे कि किसानों के खेत की मिट्टी की पूरी जानकारी लिखी होती है. इस कार्ड मे कितनी-कितनी मात्रा कौन-कौन से पोषक तत्व है और कौन सा फ़सल करने के लिए कितना और कौन सा खाद किसानों को खेतों में इस्तेमाल करना होगा. साथ ही मिट्टी को लेकर कई तरह की जानकारी इसमे दी होती है | इससे किसानों को अपने खेत की मिट्टी मे उपलब्ध पोषक तत्वों की जानकारी हो जाती और उन्हे उस खेत मे कौन से फसल उगाना है ये किसान आसानी से तय कर पाते है |


मृदा स्वास्थ्य कार्ड योजना क्या है (Soil Health Card Scheme kya hai)

मृदा स्वास्थ्य कार्ड योजना की शुरुआत केंद्र सरकार ने शुरू की और इस योजना की थीम ‘स्वस्थ धरा, खेत हरा’ है। इस योजना की मदद से किसानों की खेत की मृदा में कौन-कौन से पोषक तत्वों की कमी आयी है, इसकी जांच कर एक रिपोर्ट कार्ड तैयार किया जाता है। जिसे हमलोग मृदा स्वास्थ्य कार्ड के नाम से जानते है, यह रिपोर्ट कार्ड किसान को दिया जाता है, जिसके अनुसार किसान अपनी मिट्टी की उर्वरकता बढ़ाने हेतु सही खाद उचित मात्रा में इस्तेमाल करते है। इससे उनकी खेत की मिट्टी के स्वास्थ्य और उर्वरता मे सुधार आती है, जोकि उसकी फसल पैदावार के लिहाज से काफी अच्छा है। इस मृदा स्वास्थ्य कार्ड में मिट्टी के पोषक तत्व से सम्बंधित हर जानकारी रहती है।

खेत की मिट्टी की गुणवत्ता अच्छी फसल उत्पादन के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण होती है। आज-कल किसान ज्यादा पैदावार लेने के चक्कर मे अपने खेत में भिन्न-भिन्न प्रकार के रासायनिक खाद का उपयोग कर रहे हैं, जिससे मृदा की उर्वरक क्षमता घटती जा रही है। मिट्टी की उर्वरक क्षमता को बढ़ाने के लिए किसान बिना सोचे समझे मिट्टी में अनेक प्रकार के रसायनों का प्रयोग कर रहे हैं जो कि काफी नुकसानदायक है। किसान मृदा को सही पोषक तत्व दे इसके लिए केंद्र सरकार द्वारा मृदा स्वास्थ्य कार्ड योजना को प्रारंभ किया गया।

ये भी पढे !


Soil Health Card Scheme
Soil Health Card Scheme

मृदा स्वास्थ्य कार्ड योजना का उदेश्य (Soil Health Card Scheme Purpose)

देश कि किसानों की समस्याओ को देखते हुए केंद्र सरकार तथा राज्य सरकार समय-समय पर किसानों कि मदद पहुचाने के लिए अनेक प्रकार कि योजनाओ की शुरुआत करती रहती है उन्ही योजनाओ मे से एक है. मृदा स्वास्थ्य कार्ड योजना जिसका मुख्य उदेश्य किसानों की मिट्टी की जाँच कर एक रिपोर्ट तैयार करना और उसी अनुसार मिट्टी की उर्वरकता बढ़ाने हेतु सही खाद उचित मात्रा में इस्तेमाल करना।

बहुत सारे किसान ऐसे भी है जो ये नहीं जानते है हमारे खेत की मिट्टी किस प्रकार की फसल के लिए उपयुक्त है और वो किसान बिना जाने हुए फसलों का चुनाव करते है जिससे की उनकी फसल की पैदावार पर बहुत ही गहरा प्रभाव पङता है और पैदावार मे कमी आ जाती है जिससे किसानों को काफी नुकसान का सामना करना पङता है | लेकिन किसान अगर पहले से ही मिट्टी की जाँच कराए होते तब उन्हे पता होता कि हमारे खेत की मिट्टी किस तरह के फसल उत्पादन के लिए उपयुक्त है. और इन फसल मे कितनी मात्रा मे और कौन से उर्वरक की आवश्यकता है।

ये भी पढे !


मृदा स्‍वास्‍थ्‍य कार्ड योजना की मुख्य बातें (Soil Health Card Scheme Key Points)

योजना का नाम मृदा स्वास्थ्य कार्ड योजना
इनके द्वारा शुरू की गयी केंद्र सरकार द्वारा
लॉन्च कि तारीक 19 फरवरी 2015
योजना का उदेश्य मिट्टी परिक्षण
लाभार्थी देश के किसान
ऑफिसियल वेबसाइट https://www.soilhealth.dac.gov.in/

Paramparagat Krishi Vikas Yojana
Soil Health Card Scheme
मृदा स्वास्थ्य कार्ड योजना का लाभ (Soil Health Card Scheme se Labh)
  1. इस योजना के आ जाने से किसान ये जान पायेगे की उनकी खेत की मिट्टी मे कौन-कौन से पोषक तत्वों की कमी है और कौन सी पोषक तत्व उनकी मिट्टी मे उपलब्ध है। 
  2. इस योजना के तहत मिले मृदा स्वास्थ्य कार्ड की मदद से पौषक तत्वों की कमी को आसानी से दूर कर सकता है।
  3. ग्रामीण क्षेत्र के युवा अपने क्षेत्र में मृदा परीक्षण प्रयोगशाला स्थापित कर अपना रोजगार शुरू कर सकते है ।
  4. स्वास्थ्य मिट्टी होने से किसानों की फसल पैदावार में भी बढ़ोतरी होती है, और लागत मे भी कमी आती है । जिससे उनकी आय में भी इजाफा होगा।
  5.  किसानों को उनके खेत की मिट्टी से संबंधित सभी जानकारी मृदा स्वास्थ्य कार्ड के माध्यम से प्रदान की जाती है।
  6. इस कार्ड की मदद से किसनों को उनकी खेतों मे कीतनी उर्वरक की जरूरत होगी ये भी पता कर सकते है | और कौन-कौन से पोषक तत्व आपकी खेतों मे पहले से ही उपलब्ध है ये भी जान सकते है |
  7. इस कार्ड की मदद से मिट्टी मे उपलब्ध अम्लीयता/क्षरीयता/उदासीनता का भी पता चलता है |
  8. अगर आपकी खेत की मिट्टी मे किसी भी प्रकार का रोग है तो इस कार्ड की मदद से रोगग्रस्त मृदा के सुधार के लिए भी जानकारी दी जाती है |

ये भी पढे !


तो दोस्तों मुझे आशा है कि आपको मृदा स्वास्थ्य कार्ड योजना (Soil Health Card Scheme) से जुड़ी जानकारी पसंद आयी होगी इस पोस्ट मे मृदा स्वास्थ्य कार्ड योजना क्या है तथा इससे किसानों को क्या लाभ है इसकी पूरी जानकारी दि गई है | और आने वाले पोस्ट मे इस योजना का कैसे लाभ ले, Online Apply कैसे करें, Soil Health Card कैसे Download करें, इसकी पूरी जानकारी दी गई है। अगर आपको इस पोस्ट से संबंधित कोई भीं सवाल हो तो आप हमसे कमेंट सेक्शन में पूछ सकते है।

तो दोस्तों मुझे आशा है कि आपको हमारा यह पोस्ट पसंद आया होगा, अगर आपको पसंद आया है तो इस पोस्ट को अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करे | और उन तक भी मृदा स्वास्थ्य कार्ड योजना (Soil Health Card Scheme) की जानकारी पहुँचाए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

  • Connect with us
- Advertisement -
error: Content is protected !! Do\'nt Copy !!