Monday, October 3, 2022

Vermi Compost Business : केंचुआ खाद बनाने की बिजनेस शुरू करें, होती है बम्पर कमाई

spot_imgspot_imgspot_imgspot_img

केंचुआ खाद बिजनेस (Vermi Compost Business) कम लागत मे अच्छे मुनाफे देने वाला बिजनेस है इस बिजनेस को महिलाये, युवा, किसान, पशुपालक एवं उद्यमी आसानी से कम लागत एवं कम जगह से शुरू करके रोजगार एवं आय का अच्छा स्त्रोत बना सकते हैं। सरकार जैविक खेती को बढ़ावा देने के लिए कई तरह के योजनायें चला रही है जिसमे किसानों को जैविक खेती करने पर सब्सिडी भी प्रदान की जाती हैं। जैविक खेती मे रासायनिक खादों के जगह पर जैविक खाद का इस्तेमाल किया जाता हैं इसलिए बाजारों मे वर्मी कंपोस्ट तथा गोबर से बनी खाद की मांग अच्छी रहती है और इन जैविक खादों की कीमत भी अच्छी मिल जाती है जिससे केंचुआ खाद का बिजनेस करने वाले अच्छे मुनाफे कमा पाते हैं।

रासायनिक खाद के अंधाधुंध इस्तेमाल से लगातार भूमि की उपजाऊ क्षमता कम होती जा रही है उपजाऊ क्षमता कम होने से किसानों के फसलों पर बुरा प्रभाव पङ रहा है इसलिए सरकार भी जैविक खाद के इस्तेमाल के लिए प्रोत्साहित कर रही है जिससे बाजारों मे जैविक खाद की मांग बढ़ी है और इस मांग को पूरा करने के लिए कई किसान, महिलाये, युवाये, पशुपालक एवं उद्यमी जैविक खाद बनाने के बिजनेस मे आए है और इससे अच्छे खासे मुनाफे भी कमा रहे हैं। 

वैसे तो केंचुआ खाद के बिजनेस को कोई भी कर सकता हैं लेकिन इस बिजनेस मे उन्ही लोगों को आना चाहिए जो केंचुआ की देखभाल कर पाए या मजदूरों से इसकी अच्छी देखभाल करवा पाए। क्योंकि इस बिजनेस मे सारा कुछ केंचुआ पर ही निर्भर करता हैं इसकी अच्छी देखाभाल की जरूरत होती हैं। इस बिजनेस मे अगर केंचुआ की देखभाल अच्छे से नहीं किया जाए तो अच्छी कमाई वाला ये बिजनेस नुकसान मे भी बदल सकता हैं। इस बिजनेस मे अब काफी लोग अपना रुचि दिखा रहे है कई लोग ऐसे भी है जो इस बिजनेस मे आने के लिए अपनी नौकरी तक को छोङ दिए और आज इस बिजनेस से अच्छे पैसे कमा रहे हैं।

Vermi Compost Business
Vermi Compost Business

कैसें शुरू करें वर्मी कंपोस्ट का बिजनेस (how to start vermi compost business)

अगर आप वर्मी कंपोस्ट का बिजनेस शुरू करना चाहते है तो आपको सबसे पहले जमीन की जरूरत होती है जमीन कैसा भी हो यानि की जमीन उपजाऊ हो या बंजर हो इससे कोई फर्क नहीं पङता है। यदि आपके पास अपना खुद का जमीन न हो तो आप जमीन लीज पर लेकर भी इस बिजनेस को शुरू कर सकते हैं। जमीन का चयन करते समय इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि जमीन के पास पानी की अच्छी व्यवस्था हो। वर्मी कम्पोस्ट तैयार करने के लिए समय-समय पर पानी की आवश्यकता होती है।

चलिए अब जान लेते है वर्मी कम्पोस्ट बनाने की विधि के बारे मे, वैसे तो वर्मी कम्पोस्ट बनाने की कई विधि है लेकिन आज हम वर्मी कम्पोस्ट को आसानी से एवं कम लागत मे कैसे तैयार करते है इसके बारे मे जानते हैं। 

केंचुआ खाद बनाने कि विधि (Method of making Vermi Compost)

  1. जिस जगह पर केंचुआ खाद बनाना है उस जमीन पर सबसे पहले बेड का निर्माण कर लेना है बेड का निर्माण सुबिधा के अनुसार 8 से 10 फिट लंबा एवं 3 से 4 फिट चौङा बेड का निर्माण कर लेना हैं। 
  2. बेड पर पॉलीथिन का शीट बिछा ले। उसके बाद दो से तीन इंच घास-फूस एवं पत्ते रख दे। 
  3. घास-फूस एवं पत्ते रखने के बाद सङे-गले कार्बनिक पदार्थ एवं 10 से 15 दिन पुराना गोबर बेड मे 1 से 1.5 फिट की ऊंचाई तक डाल दे। 5 से 6 दिन तक पानी का छीङकाव बेड पर करते रहे।
  4. 5 से 6 दिन बाद गोबर के ढेर मे हाथ डालने पर गर्मी महसूस नहीं होने पर बेड पर केंचुआ छोङ दे। बेड मे केंचुआ छोङने के बाद बेड को केले के पत्ते, पुआल, भूसा, सुखी घास, खरपतवार के अवशेष आदि से उसे पूरी तरह से धक दे।
  5. बेड की नमी बनाए रखने के लिए सर्दियों मे एक बार तथा गर्मियों मे प्रतिदिन दो बार बेड पर पानी का छिङकाव करते रहना चाहिए। लगभग 45 से 50 दिनों के अंदर गोबर एवं कार्बनिक अवशेषों को केंचुआ खाद मे परिवर्तित कर देते है। खाद बनने मे लगने वाला समय केंचुआ के प्रजातियों पर भी निर्भर करता हैं। कुछ केंचुआ की प्रजातियाँ कम समय मे खाद तैयार कर देती है तो कुछ केंचुआ की प्रजातियाँ कुछ ज्यादा समय मे खाद को तैयार करती है। बिजनेस के तौर पर केंचुआ की खाद बनाने के लिए केंचुआ के ऐसे प्रजातियों का चयन करना चाहिए जो कम समय मे खाद तैयार कर दे।
  6. जब वर्मी कम्पोस्ट बेड पर तैयार हो जाता है तब बेड पर पानी छिङकना बंद कर देते हैं जैसे-जैसे ढेर सूखता जाता हैं केंचुआ नमी की तरफ नीचे चले जाते हैं। इस दौरान आप बेड के ऊपर से वर्मी कम्पोस्ट को उतारते रहें। वर्मी कम्पोस्ट उतर जाने के बाद अंत मे कुछ खाद की मात्रा के साथ केंचुआ शेष बच जाते हैं। जिसे आप अलग रखकर नया बेड तैयार कर सकते हैं।
  7. बेड से उतारे हुए खाद को छननी से छानकर छाँव मे सुखाकर बोरियों मे भर लें। 
Vermi Compost Business
Vermi Compost Bed

ध्यान देने योग्य बातें

वर्मी कम्पोस्ट बनाते समय कुछ बातों का ध्यान रखना चाहिए जो की निम्नलिखित है।

  1. खाद तैयार करते समय बेड मे नमी की कमी न हो इसके लिए आवश्यकता अनुसार पानी का छिङकाव करते रहे। 
  2. केंचुओ को मेढकों, मुर्गों एवं लाल चिटियों से बचाव करें। 
  3. खाद बनाने की सामग्री मे किसी भी प्रकार का रासायनिक उर्वरक, प्लास्टिक, लोहा आदि का प्रयोग न करें। 
  4. बेड के आस-पास पानी का जमाव न होने दे तथा बेड को सीधी धूप से बचाएं। बेड को धूप से बचाने के लिए 6 से 8 फिट ऊंचाई का शेड तैयार कर ले। 

Agriculture in hindi

केंचुआ के प्रजातियों का चयन

अगर आप केंचुआ खाद के बिजनेस मे आ गए तब आप ये चाहेंगे की जितना जल्दी से जल्दी खाद बनकर तैयार हो जाए। क्योंकि जितना कम समय मे ज्यादा खाद तैयार होगा उतना ही अच्छा मुनाफा इस बिजनेस मे होगा। इसलिए ऐसी किस्मों का चयन करना चाहिए जो की कम समय मे वर्मी कम्पोस्ट तैयार कर दे। ऐसा ही केंचुआ का एक प्रजाति है आइसीनिया फोटीडा (Eisenia Foetida) ये वर्मी कम्पोस्ट बनाने मे बहुत ही अधिक मात्रा मे इस प्रजाति के केंचुआ का प्रयोग किया जा रहा है। क्योंकि इस केंचुआ के प्रजाति का खास बात यह है कि यह कम समय मे खाद तैयार कर देता है। साथ ही यह वातावरण के अनुकूल जल्दी ही ढल जाने के कारण इसका उत्पादन एवं रखरखाव आसान होता हैं।

यह भी पढे.. डेयरी व्यवसाय के साथ करें ये काम होगा अतिरिक्त मुनाफा

कहाँ से खरीदे केंचुआ (where to buy earthworms)

केंचुआ खाद के बिजनेस मे सही केंचुआ का प्रजाति का चयन के बाद की समस्या यह रहती है कि इन प्रजातियों के केंचुआ कहाँ से खरीदे लेकिन इस समस्या का हल भी ऑनलाइन मिल जाता है।  आपको कई ऐसे सेलर मिल जायेगे जो लाइव केंचुआ को आपके घर पर पहुंचाते है। नहीं तो आप ऐसा भी कर सकते हैं कि जो पहले से वर्मी कम्पोस्ट बनाने के कार्य कर रहे है उनसे संपर्क करके केंचुआ की खरीदारी कर सकते है। या तो फिर आप अपने जिले के कृषि विज्ञान केंद्र से भी संपर्क कर सकते हैं।

केंचुआ खाद के व्यवसाय मे लागत (Cost of Vermi Compost business)

वैसे तो केंचुआ खाद के व्यवसाय मे बहुत की कम लागत आती है। अगर आप किसान या पशुपालक है तो आपको और बहुत ही कम लागत मे इस व्यवसाय से काफी अच्छा पैसा कमा सकते हैं। क्योंकि किसान एवं पशुपालक के पास पहले से ही केंचुआ खाद बनाने की कुछ सामग्री उपलब्द होती है जिससे इनकी लागत मे कमी आती है। किसानों के पास गोबर, पत्ते, पुआल, भूसा, सुखी घास, खरपतवार के अवशेष आदि पहले से ही उपलब्ध होती है जिससे इनपर होने वाले खर्च मे कमी आती है। अगर बात करें पशुपालक की तो उनके पास बहुत ही अधिक मात्रा मे गोबर उपलब्ध होता है जिससे की पशुपालक की गोबर पर जो खर्च आता है वह बच जाता हैं। इसलिए ये व्यवसाय किसानों तथा पशुपालकों के लिए काफी मुनाफे का बिजनेस हो सकता हैं। पशुपालकों तथा किसान इस बिजनेस को अपने कार्य को करते हुए भी करके इससे अच्छे पैसे कमा सकते हैं।

किसानों तथा पशुपालकों को साथ मे ये लाभ भी मिलता है कि किसानों तथा पशुपालकों को रासायनिक खाद पर होने वाले खर्चों मे कमी आती है। क्योंकि किसानों को खेती करने के लिए खाद की आवश्यकता होती है तथा पशुपालकों को पशुओ के लिए हरे चारे उगाने होते है उसमे भी खाद की आवश्यकता होती है। अगर किसानों एवं पशुपालक इस व्यवशाय मे आते है तो रासायनिक खादों पर जो खर्च आता है उससे भी निजात पा सकते हैं।

अगर कोई उद्यमी इस बिजनेस मे आना चाहते हैं तो उन्हे शुरुआती दिनों मे कुछ ज्यादा पैसों की आवश्यकता होगी। लेकिन ये खर्चे धीरे-धीरे कम होते जाएंगे। यह बिजनेस बहुत कम लागत की हैं क्योंकि इस बिजनेस मे उपयोग मे लाए जाने वाले गोबर आदि की कीमत बहुत ही कम होती है और आसानी से नजदीकी गाँव मे मिल जाती हैं। बाकी इस बिजनेस मे मजदूर एवं वर्मी कम्पोस्ट की पॅकिंग पर ही खर्च आता हैं। 

जिनके पास गोबर उपलब्ध नहीं होता है उन्हे इस बिजनेस मे लागत थोङा ज्यादा लगता है क्योंकि उन्हे गोबर खरीदना पङता है। गोबर प्रति किलो के हिसाब से या ट्रॉली के हिसाब से खरीदना पङता है जिससे खर्च मे बढ़ोतरी होती है। वहीं बात करे किसान तथा पशुपालक की तो वो पशुपालन करते ही है जिससे उन्हे गोबर खरीदने की आवश्यकता नहीं होती हैं इसलिए उन्हे इस बिजनेस मे लागत कम आती हैं। 

Vermi Compost Business
Vermi Compost
केंचुआ खाद के व्यवसाय मे मुनाफा (profit in vermi compost business)

केंचुआ खाद के बिजनेस मे मुनाफा कई घटक पर निर्भर करता हैं क्योंकि इसमे मुनाफा इसपर भी निर्भर करता है कि आप कौन से प्रजाति के केंचुआ से वर्मी कम्पोस्ट बनाने का कार्य कर रहे है क्योंकि केंचुआ के कई ऐसे प्रजाति है जो वर्मी कम्पोस्ट बनाने मे ज्यादा समय लगाती हैं।

अगर 100 वर्गमिटर मे वर्मी कम्पोस्ट का बिजनेस अच्छे तरीके से किया जाए तो पूरे साल मे करीब 50 टन तक वर्मी कम्पोस्ट का उत्पादन किया जा सकता हैं साथ ही इस बिजनेस मे केंचुआ बेचकर भी अच्छे पैसे कमाए जा सकते है। क्योंकि वर्मी कम्पोस्ट बनाने के दौरान केंचुआ अपनी जनसंख्या मे भी वृद्धि बहुत तेजी से करती हैं। अभी के समय मे केंचुआ की कीमत बाजार मे 500 से 600 रुपये प्रति किलोग्राम तक की हैं तथा वर्मी कम्पोस्ट की क्वालिटी के हिसाब से बाज़ार में इसे 5 रुपये से लेकर 20 रुपये प्रति किलोग्राम तक का भाव मिल जाता है। आप इससे हिसाब लगा सकते है कि वर्मी कम्पोस्ट के बिजनेस मे कितना मुनाफा हैं।

farming in hindi

वर्मी कम्पोस्ट को कहाँ बेचें (where to sell vermi compost)

वर्मी कम्पोस्ट को बेचने के लिए ज्यादा मार्केटिंग करने की जरूरत नहीं होती है अगर आपके उत्पाद की क्वालिटी अच्छी है तो आप इसे आसानी से बेच सकते है। अगर आपकी उत्पाद की क्वालिटी ग्राहकों को पसंद आ गई तो आप नियमित ग्राहक बना सकते है। इसे बेचने के लिए अपने आस पास के किसानों से संपर्क करे तथा उन्हे वर्मी कम्पोस्ट के फायदे एवं जो किसान अभी रासायनिक खाद का प्रयोग खेतो मे कर रहे है उसके नुकसान के बारे मे समझाए और अपनी जैविक खाद के फायदे के बारे मे विस्तार से बताए।

वर्मी कंपोस्ट को बेचने के लिए आप ऐसे किसान से बात करें जोकि अभी जैविक खेती कर रहे है क्योंकि उन्हे वर्मी कम्पोस्ट की जरूरत होती है अगर आपकी खाद की क्वालिटी अच्छी एवं कीमत किफायती है तो वे आपके वर्मी कम्पोस्ट को खरीदने के लिए तैयार हो जायेगे। साथ ही आप नर्सरी मे भी अपनी वर्मी कम्पोस्ट को बेच सकते है। आप वर्मी कम्पोस्ट को छोटे से लेकर बङे पैक मे ग्राहकों को उपलब्ध कराए। मतलब की 1, 2, 5, 10 और 50 किलो के पैक मे अपनी उत्पाद की पॅकिंग करे और शहरों मे ऐसे दुकानदारों से बात करे जो कृषि से संबंधित सामानों की बिक्री करते है जैसे कि खाद की दुकान, बीज की दुकान आदि। किचन गार्डनिंग, बैकयार्ड फार्मिंग एवं छत पर बागवानी करने वाले लोग यहाँ से खरीदारी करते है।

आप चाहे तो अपनी वर्मी कम्पोस्ट को ई-कॉमर्स वेबसाइट पर भी ऑनलाइन बेच सकते है कई ऐसे सेलर अभी भी यहाँ पर उपलब्ध है जो अपनी वर्मी कम्पोस्ट को ऑनलाइन ई-कॉमर्स वेबसाइट की मदद से अपनी उत्पाद को बेच रहे हैं। साथ ही आप सरकारी टेंडर पर भी ध्यान लगाए रखे क्योंकि समय-समय पर राज्य सरकार एवं केंद्र सरकार अपनी जरूरत के हिसाब से वर्मी कम्पोस्ट की टेंडर निकालती हैं। 

नोट केंचुआ खाद की बिजनेस शुरू करने से पहले इसके बारे मे पर्याप्त जानकारी एकत्रित कर ले। वर्मी कम्पोस्ट की व्यवसायिक स्तर पर उत्पादन के लिए आवश्यक है कि आपके पास इस बिजनेस से संबंधित सभी जानकारी हो। इस व्यवसाय मे आने से पहले वर्मी कम्पोस्ट की प्रशिक्षण ले लेनी चाहिए। ताकि बाद मे कोई समस्या का सामना न करना पङे।

केंचुआ खाद को ऑनलाइन यहाँ से ऑर्डर किया जा सकता हैंClick here

केंचुआ खाद से संबंधित पूछे गए प्रश्न (FAQs)
Q. केंचुआ खाद की कीमत क्या होती है ?
वर्मी कम्पोस्ट की क्वालिटी के हिसाब से बाज़ार में इसे 5 रुपये से लेकर 20 रुपये प्रति किलोग्राम तक की इसकी कीमत होती हैं। कई सेलर ई-कॉमर्स वेबसाइट पर इसे प्रति किलो 30 से 40 रुपये बिक्री कर रहे है।
Q. केंचुआ खाद कितने दिन में तैयार होता है ?
केंचुआ खाद करीब दो से तीन महीने मे तैयार हो जाता हैं ये इस पर भी निर्भर करता है कि आप कौन से प्रजाति के केंचुआ से खाद बना रहे हैं। आइसीनिया फोटीडा (Eisenia Foetida) केंचुआ की प्रजाति कम समय मे खाद तैयार करने के लिए जाना जाता हैं। 
Q. घर के गमलों में कौन सी खाद डालें ?
घर के गमलों मे वर्मी कम्पोस्ट या गोबर से बनी खाद का प्रयोग करे।
Q. केंचुआ खाद बनाने के लिए कैसी जमीन की आवश्यकता होती है ?
केंचुआ खाद बनाने के लिए कैसी भी जमीन को उपयोग मे लाया जा सकता है चाहे वो जमीन उपजाऊ हो या बंजर हो इससे कोई फर्क नहीं पङता है।
Q. क्या केंचुआ खाद मे गोबर की महक आती हैं ?
केंचुआ खाद मे गोबर की महक बिल्कुल नहीं आती हैं।
Q. क्या पशुपालकों के लिए केंचुआ खाद का बिजनेस अतिरिक्त आय का स्त्रोत बन सकता है ?
केंचुआ खाद का बिजनेस पशुपालकों के लिए एक बहुत ही अच्छा आय का स्त्रोत हो सकता हैं क्योंकि पशुपालक पशुपालन के साथ-साथ इस बिजनेस को करके काफी अच्छे पैसे कमा सकते हैं। पशुपालकों के पास गोबर के निपटरण का समस्या बना रहता है इस समस्या से पशुपालक अच्छे पैसे कम सकते है केंचुआ खाद का व्यवसाय शुरू करके।

तो मुझे आशा है कि आपको हमारा यह लेख पसंद आया होगा, अगर आपको पसंद आया है तो इस लेख को अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करे। और उन तक भी केंचुआ खाद बनाने की बिजनेस के बारे मे जानकारी पहुँचाए।

यह भी पढे..

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

  • Connect with us
- Advertisement -
error: Content is protected !! Do\'nt Copy !!