Friday, October 7, 2022

Potato Planter : जानिए, आलू बोने वाली मशीन एवं इससे होने वाले फायदे के बारें मे.

spot_imgspot_imgspot_imgspot_img

सब्जियों का राजा आलू (Potato) का किसी न किसी रूप मे प्रतिदिन खाने मे इस्तेमाल किया ही जाता है. शायद ही कोई ऐसा रसोई होगा जिसमे आलू का प्रयोग न होता हो। कुछ सब्जियाँ ऐसी भी हैं जो आलू के बिना आधूरी होती हैं। रोजाना सभी घरों में प्रयोग किये जाने वाले अनेक प्रकार की सब्जियों में आलू का एक महत्वपूर्ण स्थान है जिसके कारण हमारे देश में आलू कि मांग बाजारों मे पूरे वर्ष बनी रहती हैं। बड़े पैमाने पर आलू कि खपत होने के कारण इसकी खेती भी बड़े पैमाने पे की जाती है। आलू कि खेती मे अच्छा मुनाफा होने के कारण किसान भी इसकी खेती मे अधिक रुचि दिखाते हैं। इसकी खेती करने मे किसानों को कई कार्य बुआई से लेकर हार्वेस्टिंग तक मे करने होते हैं इन कार्यों को करने मे काफी मेहनत और समय लगता है साथ ही मजदूरों कि भी आवश्यकता होती हैं।

आज के आधुनिक युग मे कृषि के क्षेत्र मे भी कई नई-नई तकनीक विकसित हुई है जिससे आलू कि खेती करने मे किसानों को आसानी तो हुई ही है साथ ही मजदूरों पर निर्भरता मे भी कमी आयी हैं। इन नए एवं आधुनिक कृषि यंत्रों का आलू कि खेती मे इस्तेमाल होने से आलू कि खेती करना आसान हुआ हैं। आज के इस लेख मे एक ऐसे ही कृषि यंत्र के बारे मे बात करने वाले है जो आलू कि खेती मे आलू कि बुआई करने मे काम आता हैं जिसे पोटैटो प्लांटर (Potato planter) के नाम से जानते हैं।

Potato Varieties
Potato

यह यंत्र उन किसानों के लिए काफी फायदेमंद है जो किसान आलू कि खेती बङे पैमाने पर करते है यह यंत्र आलू कि बुआई बहुत ही आसानी से करता हैं जिससे किसानों कि मजदूरों पर आने वाले लागत मे कमी आती हैं साथ ही यह यंत्र कम समय मे बङे क्षेत्र मे आलू कि बुआई कर सकता है तो आइए जानते हैं इस यंत्र कि विशेषता एवं किसानों को होने वाले लाभ के बारे मे।

पटैटो प्लांट मशीन क्या है (Potato Planter Machine kya hain)

पटैटो प्लांटर मशीन आलू की बुआई करने का कृषि यंत्र है जिसके इस्तेमाल से कम समय मे अधिक क्षेत्र मे आलू की बुआई आसानी से किया जा सकता हैं। इस यंत्र मे कतार से कतार एवं पौधों से पौधों के बीच की दूरी को आवश्यता के अनुसार बढ़ाया या घटाया जा सकता हैं। इस आलू बोने की मशीन को ट्रैक्टर की मदद से चलाया जाता हैं। इस यंत्र मे खाद डालने के लिए उर्वरक बॉक्स लगा होता हैं जो बुआई के समय मे उर्वरक डालने मे काम आता हैं।

Agriculture in hindi

आलू बोने की मशीन मुख्यतः दो तरह की होती हैं। 

  1. स्वचालित आलू बोने की मशीन (Automatic Potato Planter Machine)
  2. मैनुअल आलू बोने की मशीन (Manual Potato Planter Machine)

स्वचालित आलू बोने की मशीन

यह मशीन पूर्णतः स्वचालित होता है, इस मशीन से आलू की बुआई करने पर एक बार आलू को बॉक्स में डालने के बाद साथ ही बगल में बने बॉक्स मे उर्वरक को डाल देने के बाद यह मशीन आलू की बुआई स्वचालित तरीके से करता हैं। इस मशीन मे ऊपर मे दो बॉक्स बने होते है जिसमे एक मे आलू का बीज और बचे हुए दूसरे बॉक्स मे आवश्यकता के अनुसार उर्वरक डाला जाता है इस मशीन से बुआई करने के लिए ट्रैक्टर की आवश्यकता होती है जिसकी क्षमता 35 से 40 एचपी (HP) तक की होनी चाहिए। इस मशीन मे किसी व्यक्ति को पीछे बैठने या खड़े होने की कोई आवश्यकता नहीं होती है। ये सारा काम स्वतः ही करता है।

इस मशीन से आलू एक निश्चित दूरी एवं उचित गहराई मे गिरता है साथ ही उर्वरक भी गिरता रहता हैं। इस यंत्र से आलू की बुआई करने पर आलू के बीजों का किसी भी तरह से कोई नुकसान नहीं होता हैं।

Potato Planter
Potato Planter

मैनुअल आलू बोने की मशीन

इस यंत्र को भी ट्रैक्टर की सहायता से चलाया जाता है, इस मशीन से आलू की बुआई करने के पहले इस यंत्र मे बने बॉक्स के अंदर आलू के बीजों को डाल दिया जाता है। इससे आलू की बुआई करने के लिए श्रमिकों को मशीन के ऊपर बैठकर आलू के बीजों को गिराने वाले कीप मे डालना पङता है जिससे आलू की बुआई होती हैं।

मैनुअल आलू बोने की मशीन से आलू की बुआई करने पर कुछ श्रमिकों की आवश्यकता होती हैं जो की आलू के बीजों को मैनुअल तरीके से एक-एक कर मशीन मे बने कीप मे डालते रहते हैं जिससे की आलू की बुआई एक निश्चित गहराई और निश्चित दूरी पर होती हैं।

यह भी पढे.. पोटैटो डिगर से करें आलुओं की खुदाई, होगी समय और पैसें दोनों की बचत

पोटैटो प्लांटर मशीन से लाभ (Aalu bone ki machine se Labh)

  • आलू की बुआई एक निश्चित गहराई और निश्चित दूरी पर होने से आलू का अंकुरण भी अच्छा होता हैं। 
  • पटैटो प्लांटर मशीन की सहायता से काफी कम समय मे अधिक क्षेत्र मे आलू की बुआई आसानी से की जा सकती हैं।
  • आलू की खेती मे इस कृषि यंत्र का उपयोग करने से श्रमिको की कम आवश्यकता होती हैं।
  • इस कृषि यंत्र का इस्तेमाल करने से समय, लागत एवं श्रम तीनों की बचत होती हैं।
  • आलू की खेती मे किसान इस मशीन का इस्तेमाल करके समय की बचत तो करते ही है साथ ही समय पर आलू की बुआई हो जाने से आलू की अच्छी पैदावार होती हैं एवं आलू की फसल पर कीटों एवं रोगों का प्रकोप भी कम देखने को मिलता हैं।  
आलू बोने की मशीन की कीमत (aalu bone ki machine ki kimat)

स्वचालित आलू बोने की मशीन की कीमत की शुरुआत करीब 35-70 हजार से हो जाती है और ये लगभग 2.5 से 4 लाख तक की होती है। और वहीं मैनुअल आलू बोने की मशीन की कीमत की शुरुआत करीब 30 हजार से हो जाती है और ये लगभग 1 से 2.5 लाख तक की होती हैं। इसकी कीमत कंपनी, तकनीक, परफॉरमेंस और गुणवत्ता पर निर्भर करती है पटैटो प्लांटर मशीन कई बङी कंपनियों से लेकर छोटी कंपनियाँ बनाती हैं।

Potato
Potato
होगी श्रम की बचत

आलू की खेती मे आलू की बुआई करने वाली मशीन का इस्तेमाल करने से किसानों को काफी लाभ होता है क्योंकि यह मशीन कम समय, कम खर्च एवं कम मेहनत मे आलू की बुआई आसानी से करता हैं साथ ही इससे बुआई करने पर ज्यादा श्रमिकों की आवश्यकता भी नहीं होती हैं। वहीं अगर बात करें आलू की पारंपारिक विधि से बुआई करने की तो इसमे काफी समय एवं काफी मेहनत एवं ज्यादा श्रमिकों की आवश्यकता होती हैं। और आज कल खेती मे कार्य करने वाले श्रमिक काफी कम मिलते हैं जिससे किसानों को आलू की बुआई करने मे कई तरह के दिक्कतों का सामना करना पङता हैं। अगर किसान आलू की खेती मे इस कृषि यंत्र का उपयोग करें तो किसानों की श्रम की बचत होगी।

farming in hindi

कहाँ से खरीदे मशीन

आलू बोने की ये मशीन आसानी से बाजार मे उपलब्ध हैं इस कृषि यंत्र को कई कंपनियाँ बनाती है इसे खरीदने के लिए अपने क्षेत्र की विक्रेता (dealer) से संपर्क कर सकते हैं। 

आलू बोने वाली मशीन से संबंधित पूछे गए प्रश्न (FAQs)
Q. पटैटो प्लांटर मशीन का क्या कार्य हैं?
पटैटो प्लांटर मशीन आलू की बुआई करने का कार्य करता हैं। 
Q. कौन-कौन सी कंपनियों पटैटो प्लांटर मशीन बनाती हैं?
लगभग सभी छोटी-बङी कंपनियां पटैटो प्लांटर मशीन बनाती हैं। 

तो मुझे आशा है कि आपको हमारा यह लेख पसंद आया होगा, अगर आपको पसंद आया है तो इस लेख को अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करे। और उन तक भी पटैटो प्लांटर मशीन के बारे मे जानकारी पहुँचाए।

यह भी पढे..

धन्यबाद..

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

  • Connect with us
- Advertisement -
error: Content is protected !! Do\'nt Copy !!
हरे चारे के रूप मे उपयोगी हैं अजोला, जानें कैसें : Azolla is useful as green fodder स्प्रिंकलर सिंचाई तकनीक अपनायें पानी बचायें भरपूर उपज पाएं : Sprinkler irrigation ke phayde स्प्रिंकलर सिंचाई अपनाएं पानी बचाएं : Sprinkler irrigation क्या हैं, जानें स्ट्रॉबेरी की खेती से करें, मोटी कमाई : Strawberry Farming स्ट्रॉबेरी की खेती करके कमायें जा सकते हैं, अच्छे मुनाफे : Strawberry ki kheti ki jankari
हरे चारे के रूप मे उपयोगी हैं अजोला, जानें कैसें : Azolla is useful as green fodder स्प्रिंकलर सिंचाई तकनीक अपनायें पानी बचायें भरपूर उपज पाएं : Sprinkler irrigation ke phayde स्प्रिंकलर सिंचाई अपनाएं पानी बचाएं : Sprinkler irrigation क्या हैं, जानें स्ट्रॉबेरी की खेती से करें, मोटी कमाई : Strawberry Farming स्ट्रॉबेरी की खेती करके कमायें जा सकते हैं, अच्छे मुनाफे : Strawberry ki kheti ki jankari